Hemu Kalani ; A True Hero ; Freedom Fighter

Home / Freedom Fighters / Hemu Kalani ; A True Hero ; Freedom Fighter

Hemu Kalani ; A True Hero ; Freedom Fighter

image

image

आज जब देश “भगत सिंह, राजगुरु और सुखदेव” को उनके शहीद होने पर याद कर रहा हैं तो आपको यह जानना जरुरी है की आज ही के दिन भारत के एक ऐसे सपूत का जन्म भी हुआ था जिसने अपने वतन के लिए क़ुरबानी दी थी ।

“शहीद हेमू” के नाम से मशहूर हेमू कालानी ।

कौन था हेमू कालानी ?

जब वे किशोर वयस्‍क अवस्‍था के थे तब उन्होंने अपने साथियों के साथ विदेशी वस्तुओं का बहिष्कार किया और लोगों से स्वदेशी वस्तुओं का उपयोग करने का आग्रह किया.

सन् 1942 में जब महात्मा गांधी ने भारत छोड़ो आन्दोलन चलाया तो हेमू इसमें कूद पड़े।

1942 में उन्हें यह गुप्त जानकारी मिली कि अंग्रेजी सेना हथियारों से भरी रेलगाड़ी रोहड़ी शहर से होकर गुजरेगी. हेमू कालाणी अपने साथियों के साथ रेल पटरी को अस्त व्यस्त करने की योजना बनाई. वे यह सब कार्य अत्यंत गुप्त तरीके से कर रहे थे पर फिर भी वहां पर तैनात पुलिस कर्मियों की नजर उनपर पड़ी और उन्होंने हेमू कालाणी को गिरफ्तार कर लिया और उनके बाकी साथी फरार हो गए.

हेमू कालाणी को कोर्ट ने फांसी की सजा सुनाई. उस समय के सिंध के गणमान्य लोगों ने एक पेटीशन दायर की और वायसराय से उनको फांसी की सजा ना देने की अपील की.

वायसराय ने इस शर्त पर यह स्वीकार किया कि हेमू कालाणी अपने साथियों का नाम और पता बताये पर हेमू कालाणी ने यह शर्त अस्वीकार कर दी.

21 जनवरी 1943 को उन्हें फांसी की सजा दी गई. जब फांसी से पहले उनसे आखरी इच्छा पूछी गई तो उन्होंने “भारतवर्ष में फिर से जन्म लेने की इच्छा जाहिर की” इन्कलाब जिंदाबाद और भारत माता की जय की घोषणा के साथ उन्होंने फांसी को स्वीकार किया ।

ऐसे महान भारत के सपूत को उनके 93वे जन्म दिवस पर आज हम उन्हें जरूर याद करें ।

जय हिंद, जय भारत, भारत माता की जय ।

सुमित मंगलानी
आई.टी. प्रमुख
सिंध वेलफेयर सोसाइटी (भारत)

To Read about Hemu Kalani’s Complete Life Prifile In English visit http://wp.me/p4qbeE-16

Recommended Posts
Comments
  • ASHOK AINSHANI
    Reply

    About Guidance the Sindhi Freedom Fighter & about Loss his Life, Thanks. Sindhi Community & All India Public must Remember Him All Time.

Leave a Comment